नशा का कारोबार करने वाले की पीठ पीछे खड़ा होना विधायक को शोभा नहीं देता – रमन बहल

Breaking News गुरदासपुर आसपास ताज़ा

रावी न्यूज गुरदासपुर

जलवा ढाबा मालिक के साथ हमदर्दी दिखाने वाले विधायक बरिंदरमीत सिंह पाहड़ा तब कहां थे जब कुछ दिन पहले रेलवे रोड से अवैध रुप से लगाये गये खोखे को हटाया गया था, वह चीखते रहे चिल्लाते रहे लेकिन उनकी सुध तक विधायक ने नहीं ली, लेकिन जब जलवा के खोखे को हटवाने की बात आयी तो विधायक ने खुद वहां पहुंच कर धरना लगा दिया। लगाते भी क्यो न जलवा पर पांच साल के विशेष कृपा दृष्टि जो थी, उक्त विचार गुरदासपुर से आम आदमी पार्टी के नेता रमन बहल ने मौजूदा विधायक पर तंज कंसते हुए कहे।

रमन बहल ने कहा कि जिसे वह जलवा का ढाबा बता कर लोगों के सामने उसे गरीब तथा तरस योग्य बता रहे हैं हमदर्दी बटोरने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन सच्चाई तो यह है कि वह कोई मामूली सा ढाबा न होकर जंगलात विभाग की जमीन पर करीब 300 फुट जमीन पर कब्जा किये हुआ पूरा रेस्त्रांनुमा बार बना हुआ है। नशा का कारोबार करने वाले व्यक्ति के पीछे धरना देना एक विधायक को शोभा नहीं देता। उसकी पीठ पर खड़े होकर विधायक ने यह साबित कर दिया है कि पिछले लंबे समय से जो यह अवैध शराब पिलाने का कारोबार चल रहा था उनकी छत्रछाया तले ही फलफूल रहा था।

रमन बहल ने कहा कि उनका इस मामले में कोई लेन देन नहीं था लेकिन विधायक की ओर से उन्हें जबरन जोड़ने के कारण उन्हें साफ करना पड़ा है कि इसके खिलाफ इलाके के लोगों की ओर से डीसी गुरदासपुर को लिखित शिकायत दी गई थी कि इस ढाबे को हटाया जाये क्योंकि यहां पर शराबियों का जमावड़ा लगा रहता है और यहां पर लोगों के पारिवारिक सदस्यों का गुजरना मुश्किल हुआ पड़ा है। जिसके बाद जंगलात विभाग ने उस पर कार्रवाई की है। रमन बहल ने कहा कि भयंकर कोविड के वक्त भी यह जलवा ढाबा स्थानीय राजनीतिक आशीर्वाद से चलता रहा।

इलाके के रहने वाले नरेंद्र सिंह व अन्य लोगों ने संयुक्त तौर पर बताया कि वह खुद कांग्रेसी विधायक पाहड़ा के समर्थक रहे हैं, उन्होंने कई बार इस संबंधी शिकायत प्रशासन को की थी लेकिन कांग्रेस सरकार के वक्त भी उन पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। लेकिन अब आप की सरकार ने सत्ता में आते ही अवैध कारोबारों पर रोक लगाने के लिए यह कार्रवाई को अमल में लाया गया जिसका वह स्वागत करते हैं और प्रशासन से मांग करते हैं कि अगर जल्द इस खोखा को यहां से हटाया न गया तो वह भी इकट्ठा होकर यहां पर प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने बताया कि कई बार इस ढाबे पर गोलियां चली हैं, एक बार यहां पर एक पुलिस मुलाजिम से झगड़ा कर उसकी वर्दी भी फाड़ दी गई, जिससे इलाके के लोग इससे खासे परेशान थे।

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.