Raavi News # मुख्यमंत्री चन्नी द्वारा कमज़ोर वर्गों के प्रति कैप्टन की संकुचित मानसिकता की कड़ी निंदा, कहा, मेरे द्वारा आम लोगों के लिए उठाए मुद्दों के कारण महाराजा ने हमेशा मुझे निशाना बनाया

राजनीति

रावी न्यूज पठानकोट (रजिंदर सैनी)

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की गरीबों और आम लोगों के प्रति संकुचित मानसिकता के लिए निंदा करते हुए कहा कि आम लोगों के मुद्दे उठाने के कारण वह हमेशा ही कैप्टन के निशाने पर रहे हैं।

आज यहाँ जलसे को संबोधन करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वह एक विनम्र पृष्ठभूमि वाले परिवार से संबंध रखते हैं, इसलिए उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री को हमेशा आम लोगों के हितों की रक्षा के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि महाराजा ने गरीबों और दबे-कुचले लोगों को राहत देने संबंधी मुद्दों को हल करने की बजाय उनके हितों को नुकसान पहुंचाना शुरू कर दिया। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि उन्होंने आम और दबे-कुचले लोगों के लिए अपना संघर्ष जारी रखा जिस कारण अहंकारी महाराजा को कांग्रेस पार्टी ने सत्ता से बाहर कर दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महाराजा को सत्ता से बाहर करने और मुख्यमंत्री की ज़िम्मेदारी आम व्यक्ति को सौंपने का क्रांतिकारी फ़ैसला सिर्फ़ कांग्रेस पार्टी ही ले सकती है। उन्होंने आगे कहा कि यह क्रांति तभी कायम रह सकती है, यदि सभी आम और जरूरतमंद लोग कांग्रेस के समर्थन के लिए एकजुट हो जाएँ। मुख्यमंत्री चन्नी ने स्पष्ट तौर पर कहा कि शक्तिशाली कुलीन वर्ग गरीबों को सांप्रदायिक आधार पर बाँटकर इस आम व्यक्ति की सरकार को अस्थिर करने की साजिश रच रहा है।

अकाली, भाजपा और अमरिन्दर पर बरसते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि ये सभी मिलकर पंजाब के लोगों के हितों को नुकसान पहुंचाने के लिए ज़िम्मेदार हैं। उन्होंने कहा कि मोदी, बादल और कैप्टन की तिकड़ी ने राज्य के हितों को खतरे में डालने के लिए किसान विरोधी कानून पास करने के लिए साज़िश रची। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि इस किसान विरोधी कानून के लिए अकाली ज़िम्मेदार हैं क्योंकि उन्होंने 2013 में पंजाब विधानसभा में कंट्रैक्ट फार्मिंग बिल पास किया जो बाद में काले खेती कानूनों का आधार बना। उन्होंने आगे कहा कि वह इन काले कानूनों को संसद में पास करवाने के लिए भाजपा के साथ मिले हुए हैं।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि विभिन्न पार्टियों के धनाढ्य राजनीतिज्ञों के अपवित्र गठजोड़ ने पंजाब को लूटने के लिए आम लोगों से सत्ता छीन ली थी। उन्होंने कहा कि बादलों और कैप्टन जैसे इस कुलीन वर्ग के मैंबर अपने-अपने निजी हितों के लिए गठजोड़ करके राज्य को लूटते थे। उन्होंने आगे कहा कि यह वर्ग अपने निजी हितों की पूर्ति के लिए आपस में मिलकर बारी-बारी सत्ता संभालकर पंजाब को जानबूझ कर लूटते आ रहे हैं और हर पाँच साल बाद सिर्फ़ शासक बदलते हैं परन्तु सत्ता उनके हाथों में ही रहती है। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि अब यह गठजोड़ टूट गया है और सत्ता आम लोगों के हाथों में आ गई है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने खुद कठिनाइयों से भरा जीवन व्यतीत किया है, इसलिए वह आम आदमी की मुश्किलों से अच्छी तरह परिचित हैं। चन्नी ने कहा कि इसी कारण वह गरीब और आम आदमी की भलाई के लिए सरकारी फंड के सही प्रयोग को यकीनी बना रहे हैं। उन्होंने आगे कहा कि जब तक वह सत्ता में हैं, तब तक वह अपनी यह ज़िम्मेदारी इसी तरह निभाते रहेंगे।

आम आदमी पार्टी के प्रमुख श्री अरविन्द केजरीवाल की राज्य के बारे में कम जानकारी के लिए आलोचना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री पंजाब की सत्ता की लालसा के लिए अंधेरे में तीर मार रहे हैं। उन्होंने कहा कि अफ़वाहें फैलाने वाला केजरीवाल पंजाब के बारे में कुछ नहीं जानता परन्तु बेतुकी बयानबाज़ी से पंजाब की सत्ता में आने की कोशिश कर रहा है। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि राज्य में ऐसी संकुचित राजनीति कभी भी कामयाब नहीं होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केजरीवाल सत्ता का लालची है जो पंजाब पर शासन करना चाहता है, जिस कारण वह पंजाबियों को गुमराह करने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि केजरीवाल और जुंडली को एक बात याद रखनी चाहिए कि इतिहास गवाह है कि पंजाबियों को अपनी धरती और लोगों के साथ प्यार है और उन्होंने कभी भी किसी बाहर के व्यक्ति को अपने राज्य में आने और शासन करने की इजाज़त नहीं दी। चन्नी ने कहा कि दिल्ली में केजरीवाल सरकार फेल हो चुकी है जबकि कांग्रेस लोगों के कल्याण के लिए बेहतरीन काम कर रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वह खुशकिस्मत हैं कि कांग्रेस लीडरशिप ने उनको राज्य की सेवा करने का मौका दिया। उन्होंने कहा कि मैं राज्य के आम लोगों को पेश समस्याओं के हल के लिए काम कर रहा हूं। उनकी सरकार की तरफ से कई जन समर्थकीय पहलकदमियों के बारे जानकारी देते हुये उन्होंने कहा कि बिजली बिलों के 1500 करोड़ रुपए के बकाए माफ किये, घरेलू उपभोक्तारों के लिए बिजली दरें 3रुपए प्रति यूनिट घटाईं, ग्रामीण क्षेत्रों में मोटरों के 1200 करोड़ रुपए के बिल माफ किये, पानी के खर्च घटा कर 50 रुपए किये, रेत के रेट घटा कर 5.50 प्रति क्यूबिक फुट रुपए किये और गन्ने के बढ़े हुए 50 रुपए भाव में से पंजाब सरकार 35 रुपए बर्दाश्त करेगी, जबकि प्राईवेट मिलों को अब सिर्फ़ 15 रुपए का बोझ ही बर्दाश्त करना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि सिर्फ़ यही नहीं बल्कि आने वाले दिनों में ऐसे कई और महत्वपूर्ण फ़ैसले भी लिए जाएंगे।

सरहदी क्षेत्रों के निवासियों के प्रति हमदर्दी ज़ाहिर करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि चाहे इस क्षेत्र में बहादुर लोग रहते हैं परन्तु फिर भी राज्य सरकारों ने उनको नजरअन्दाज किया है। उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र का संपूर्ण विकास किया जायेगा, जैसे बादलों और महाराजा ने अपने-अपने क्षेत्रों का विकास किया था। मुख्यमंत्री चन्नी ने आगे कहा, ‘मेरा वायदा है कि सरहदी क्षेत्रों में जल्द ही व्यापक विकास किया जायेगा।’’

इस दौरान मुख्यमंत्री ने पठानकोट में मैडीकल कालेज, भोआ को प्रशासनिक ब्लाक ऐलानने, नरोट जैमल सिंह अस्पताल को अपग्रेड करने और संत बाबा नाभा दास की इमारत के लिए उचित ज़मीन देने का ऐलान किया।

इससे पहले जलसे को संबोधन करते हुये राजस्व मंत्री श्रीमती अरुणा चौधरी ने ‘चन्नी राज, अच्छा राज’ का नायरा देते हुये कहा कि मुख्यमंत्री चन्नी ने कांग्रेस पार्टी में नयी जान फूँकी है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री चन्नी के सत्ता संभालने के बाद पंजाब मिसाली विकास और जन समर्थकीय पहलकदमियों का एक नया दौर देख रहा है। श्रीमती चौधरी ने कहा कि मुख्यमंत्री चन्नी ने राज्य के सरहदी जिलों में सर्वपक्षीय विकास की नयी प्रवृत्ति पाई है, जिसको अब तक अनदेखा किया गया था।

अपने संबोधन में विधायक जोगिन्द्र पाल ने चन्नी को आम लोगों का मुख्यमंत्री बताया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने हर गरीब आदमी का स्वप्न साकार किया है और समाज के हर वर्ग के कल्याण के लिए काम किया है। श्री जोगिन्द्र पाल ने कहा कि कांग्रेस के शासन के दौरान पंजाब में महत्वपूर्ण विकास हुआ है।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने गुरुद्वारा बारठ साहिब में माथा टेका जहाँ उनको सिरोपो देकर सम्मानित किया गया। मुख्यमंत्री चन्नी ने गाँव बंननी लोधी में खेल स्टेडियम और गाँव लाहड़ी महंता में 66 के.वी पावर स्टेशन भी लोकार्पण किया।

इस मौके पर दूसरों के इलावा विधायक अमित विज, पूर्व मंत्री रमन भल्ला, कांग्रेसी नेता अशोक वढेरा, उद्योग विभाग के वाइस चेयरमैन कार्तिक वढेरा उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *