Raavi News # फेसबुक पर फ्रेंड बनाकर वाट्सएप नंबर लिया, फिर अश्लील वीडियो काल कर मांगे पैसे

Breaking News क्राइम वायरल खबर

रावी न्यूज गुरदासपुर
साइबर क्राइम में लगातार नए-नए तरीकों से ठगी की जा रही है। कभी फेसबुक पर फेक आइडी बनाकर लोगों से पैसों की मांग की जाती है तो कभी महिला की आइडी बनाकर युवकों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर उनसे उनका मैसेंजर में वाट्सएप नंबर मांगा जाता है। जैसे ही युवक खूबसूरत लड़की को देखकर उसके साथ अपना मोबाइल नंबर शेयर कर देता है तो दूसरे ही पल वाट्सएप की वीडियो काल आकर अश्लील बातें शुरू कर दी जाती हैं और रिकार्ड भी कर ली जाती है। इसके बाद शुरू होता है ब्लैकमेल करने का खेल। ताजा घटना शहर के सिविल लाइन रोड निवासी एक युवक के साथ हुई। महिला की आइडी से फेसबुक पर फ्रेंड बनाकर उससे वाट्सएप नंबर लिया गया और फिर उसे अश्लील वीडियो काल की गई। इसके बाद काल रिकार्ड कर उससे पैसे मांगे गए। हालांकि युवक अपनी सतर्कता के कारण ठगी का शिकार होने से बच गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पीड़ित ने बताया कि गत शुक्रवार रात उसे फेसबुक पर एक महिला की फ्रेंड रिक्वेस्ट आई। इसके बाद महिला ने मैसेंजर पर उससे उसका मोबाइल नंबर मांगा। युवक के मोबाइल नंबर देते ही महिला ने उसे अश्लील वीडियो काल कर दी और बातचीत कर वीडियो भी बनाने लगी। इसके बाद उसे फोन काल करके यह कहा जाने लगा कि अगर वह उनके खाते में इतने पैसे नहीं डालेगा तो उसकी वीडियो यूट्यूब व अन्य इंटरनेट साइट्स पर अपलोड कर दी जाएगी। हालांकि उक्त युवक ने हिम्मत से काम लेते हुए घटना की जानकारी अपनी मां और फिर अन्य लोगों को दी। इसके बाद ब्लैकमेल करने वालों को फोन कर फटकारा गया तो उसने अपना मोबाइल फोन बंद कर दिया। इसके बाद पुलिस को शिकायत दी गई। पीड़ित का कहना है कि युवा पीढ़ी को फंसाकर ब्लैकमेल किया जाता है। ऐसे मामलों में पीड़ितों को निसंकोच अपने परिवार के सदस्यों से बातचीत करनी चाहिए और पुलिस को भी शिकायत दर्ज करवानी चाहिए। पहले भी कई मामले आ चुके हैं सामने
साइबर ठगी के ऐसे कई मामले पहले भी जिले में हुए हैं, जहां पर शहर के कुछ ऐसे गणमान्य व्यक्तियों के साथ वाट्सएप पर वीडियो काल आते ही सामने वाली महिला अश्लील हरकतें करते हुए वीडियो बनानी शुरू कर देती है। इसके बाद व्यक्ति को ब्लैकमेल करने का सिलसिला शुरू हो जाता है। हालांकि इस मामले में पुलिस ने कोई भी एफआइआर दर्ज नहीं की है।
अपरिचित लोगों की फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार न करें : एसएसपी
मामले को लेकर एसएसपी डा. नानक सिंह का कहना है कि किसी भी अपरिचित लोगों की फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार न करें। इंटरनेट साइट पर बनाई जाने वाली आइडी पर अपनी जान पहचान के लोगों को ही रखें। ऐसे मामले होने पर तुरंत पुलिस के पास शिकायत दर्ज करवाएं। अपना बैंक खाते आदि की ओटीपी किसी से शेयर ना करें।

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.