Raavi news # पूर्व सैनिकों को फिर रोजग़ार प्राप्ति में सहायता देने के लिए पैसको को मियारी प्रशिक्षण देने के दिये निर्देश

Breaking News

रावी न्यूज चंडीगढ़ (गुरविंदर सिंह मोहाली)

रक्षा सेवाएं कल्याण विभाग के कामकाज की समीक्षा करते हुये उप मुख्यमंत्री ओ.पी. सोनी, जिनके पास इस विभाग का कार्यभार भी है, ने अधिकारियों को पूर्व सैनिकों के कल्याण को यकीनी बनाने के लिए ठोस कदम उठाने के लिए कहा। सोनी ने कहा कि पूर्व सैनिकों ने हमारी सरहदों और देश की प्रभुसत्ता की रक्षा करने के लिए अपने जीवन के सुनहरे दिन दांव पर लगाए हैं और हम उनके लिए कम से कम इतना तो कर सकते हैं कि उनके परिवारों का ख़्याल रखें और उनकी आयु और योग्यता अनुसार नौकरियाँ प्राप्त करने में उनकी मदद करें। उन्होंने विभाग को पूर्व सैनिकों के लिए तुरंत नयी कल्याण स्कीमों लेकर आने के निर्देश दिए।उन्होंने सी.एम.डी. पैसको को अ धिक से अधिक संख्या में पूर्व सैनिकों को भर्ती करने और फिर रोजग़ार प्राप्ति में उनकी मदद करने के लिए उनको मानक प्रशिक्षण देने के लिए कहा।राज्य में लगभग 14 लाख पूर्व सैनिक और उनके आश्रित हैं जिनमें लगभग 3.40 लाख पूर्व सैनिक और लगभग 10.50 लाख उनके वारिस /आश्रित हैं। उन्होंने पैसको को सैनिक सुरक्षा प्रशिक्षण संस्था, मोहाली की कार्यकुशलता को बढ़ाने और पूर्व सैनिकों को सुरक्षा सम्बन्धी प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए कहा। मौजूदा समय पैसको में लगभग 10,000 पूर्व सैनिक हैं, जो अलग-अलग ड्यूटियों पर नियुक्त हैं, जिनमें से ज़्यादातर सुरक्षा ड्यूटियों में हैं। पैसको ने अलग-अलग बोर्डों और कारपोरेशनों को प्रशिक्षण प्राप्त ड्राइवर भी प्रदान किये हैं। ठिंडा और मोहाली कैंपस में पैसको वोकेशनल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (पीवीटीआइ) सुरक्षा और व्यावसायिक प्रशिक्षण कोर्स करवाता है जिसमें बेसिक कंप्यूटर स्किल्लज़, फायर और इंडस्ट्रियल सेफ्टी, रैफ्रिजरेशन और एयर -कंडीशनिंग, इलैक्ट्रिकल और इलेक्ट्रानिक टैकनीशियन और जेसीबी के अलावा फ़ौज, जल सेना और हवाई सेना में सेवा निभा रहे सैनिकों के लिए डायरैक्टोरेट जनरल आफ रीसैटलमैंट (एमओडी) के कोर्स शामिल हैं। मीटिंग में दूसरों के अलावा विशेष सचिव रक्षा सेवाएं कल्याण मोहनीश कुमार,  डायरेक्टर रक्षा सेवाएं कल्याण ब्रिगेडियर सतीन्द्र सिंह मेजर जनरल ऐ पी सिंह ,ब्रिगेडियर आई एस गाखल मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *