Raavi News # ग्राहक बन बैंक में आए लूटरों ने गन पॉइंट पर साढ़े तीन लाख लूटे,जाते समय बैंक गार्ड की राइफल और कारतूस भी ले गए घटना सी सी टी वी में हुई रिकार्ड

Breaking News

रावी न्यूज बटाला (अनू)

बटाला के गांव बहादुर हुसैन में पंजाब एंड सिंध बैंक से नकाबपोश लुटेरों ने 3 लाख 50 हजार, बैंक गार्ड की डबल बैरल राइफल और 50 कारतूस भी साथ में ले गए। ब्रांच मैनेजर विकास के अनुसार करीब डेढ़ बजे दो लोग बैंक के अंदर ग्राहक बन कर आए और कर्मचारियों से पैसा जमा करवाने की फार्म मांगे। इसी दौरान दो लोग  मुंह ढके अंदर पहुंचे और बैंक गार्ड बलविंदर सिंह पर गन तान दी और पहले से ही अंदर लूटेरों के साथिन ने कैशियर से करीब साढ़े तीन लाख रुपए अपने साथ लाए बैग में रख लिए। जाते समय लूटेरे अपने साथ गार्ड की 12 बोर की गन और 12 कारतूस भी ले गए। लूटेरे सफेद रंग की आई 20 कार पर आए थे।

एसएसपी बटाला मुखविंदर सिंह पुलिस पार्टी के साथ मौके पर पहुच कर जांच कर रहे है। सभी लूटेरे बैंक में लगे सीसीटीवी में कैद हो गए हैं। पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर लूटेरों की शिनाख्त में जुट गई है। बटाला के गांव बहादूर हुसैन में पंजाब एंड सिंध बैंक की ब्रांच में ग्राहक बन कर आए लुटेरों ने कैशियर से पिस्तौल की नोक पर करीब साढ़े तीन लाख रूपए लूट लिए और जाते समय बैंक गार्ड की 12 बोर की डब्ल बैरल गन और 12 कारतूस भी अपने साथ ले गए। बैंक के गार्ड बलविंदर सिंह ने बताया कि बुधवार दोपहर करीब 1:40 पर दो युवक बैंक के अंदर आए और बैंक के कर्मचारी से पैसे जमा करवाने वाला फार्म लेने के बाद कैश काऊंटर के पास फार्म भरने का नाटक करने लगे। इसी दौरान करीब 1:47 पर बाहर से दो अन्य लुटेरे जिनहों ने अपने मुंह कपड़े से ढांप रखे थे अंदर आए। गार्ड ने कहा कि ऐसा लगा जैसे किसी ने करोना के कारण मुंह ढका हो इस लिए शक नहीं किया जा सका। एक लुटेरे ने आते ही अपनी पिस्तौल निकाल ली और गार्ड पर तान दी। पहले से ही अंदर दो अन्य लुटेरों के साथ मिल कर कैश कांऊंटर से पैसे निकाल कर सभी फरार हो गए। गार्ड ने कहा कि लुटेरे जाते समय उसकी 12 बोर की डब्ल बैरल गन और 12 कारतूस भी अपने साथ ले गए। बैंक मैनेजर विकास ने बताया कि लुटेरे सफेद रंग की आई 20 कार में आए थे और कार को बैंक के बाहर कुछ ही दूरी पर खड़ी की थी। लुट को अंजाम दे कर लुटेरे उसी कार में फरार हो गए

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.