प्रशासन की कार्रवाई से पहले ही उठा लिया गया जलवा ढाबा

Breaking News गुरदासपुर आसपास

रावी न्यूज गुरदासपुर

पिछले कई दिनों से चर्चा में चल रहा हरदोछन्नी रोड स्थित जलवा ढाबा जिसको बचाने के लिए गुरदासपुर के बरिंदरमीत सिंह पाहड़ा ने पूरी रात धरना लगा कर इस ढाबा को आंच तक न आने की बात कही थी, आखिरकार ढाबा के मालिक के मन में पता नहीं क्या आया आज उसने प्रशासन की कार्रवाई से पहले अपना ढाबा वहां से उठा लिया।

गौरतलब है कि पिछले करीब एक सप्ताह से ज्यादा समय से हरदोछन्नी रोड स्थित एक ढाबा जिसका नाम जलवा था को बार बार प्रशासन की ओर से कभी नोटिस जारी किये जा रहे थे तो कभी उनके ढाबा के मीटर को काट दिया गया। यह मामला इतना चर्चित हो गया कि मामला सीएम तक भी जा पहुंचा था। पहुंचता भी क्यों न जहां एक ओर हलका के मौजूदा विधायक बरिंदरमीत सिंह पाहड़ा की ओर से उनके वर्कर ढाबा मालिक के साथ धक्केशाही के आरोप मौजूदा सरकार पर लगाये जा रहे थे। यही नहीं ब्लकि विधायक ने खुद एक रात इस ढाबा के बाहर रात गुजार कर यहां तक कहा था कि वह इस ढाबा को आंच तक नहीं आने देंगे और उनके वर्कर के साथ अगर कोई धक्केशाही करता है तो वह उसे हरगिज बर्दाश्त नहीं करेंगे।

उन्होंने ढाबा गिराने आये वन विभाग के अधिकारियों को ढाबा तोड़ने नहीं दिया। वहीं जब विधायक की ओर से इस मामले को राजनीतिक रंजिश बताया तो आप नेता रमन बहल भी सामने आये और उन्होंने ने भी प्रेस कांफ्रेंस कर इस पूरे मामले के बारे में बताया कि उनका इस मामले से कोई लेना देना नहीं है इसे जानबूझ कर मौजूदा विधायक राजनीतिक रंगत दे रहा है। जिसके बाद ढाबा मालिक सहित 50 लोगों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हुई। इस बात को लेकर ढाबा मालिक को भी चिंता दिन प्रति बढ़ रही थी कि किसी भी वक्त प्रशासन उनके ढाबा पर अपना बुलडोजर चला सकते हैं। वहीं इसी के चलते आज ढाबा मालिक ने अपने परिजनों के साथ मिल कर खुद ही इस ढाबा को वहां से उठा लिया और जंगलात विभाग की इस जमीन को खाली कर दिया। जब इस मौके पर उनसे बात की गई तो उन्होंने कहा कि वह बड़े लोगों के साथ पंगा नहीं ले सकते।

Share and Enjoy !

Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published.