शिक्षा आधिकारियों की तरफ से स्कूलों में पहुंच कर अध्यापकों को किया जा रहा लगातार प्रेरित

पठानकोट

रावी न्यूज पठानकोट

नेशनल अचीवमेंट सर्वे 2021 की तैयारियां पूरे पंजाब में जोर शोर से चल रही हैं और जिला पठानकोट के अलग -अलग शिक्षा आधिकारियों की तरफ से लगातार स्कूलों के दौरे करके अध्यापकों को नेशनल अचीवमेंट सर्वे संबंधी प्रेरित किया जा रहा है। 

स्कूलों के दौरे करते हुए जिला शिक्षा अफसर सेकंडरी जसवंत सिंह, जिला शिक्षा अफसर एलिमेंट्री बलदेव राज, उप जिला शिक्षा अफसर सेकंडरी राजेश्वर सलारीया और उप जिला शिक्षा अफसर एलिमेंट्री रमेश लाल ठाकुर की तरफ से पंजाब का शिक्षा के क्षेत्र में प्राप्त किया पहला स्थान बरकरार रखने के लिए और जिला पठानकोट का शिक्षा क्षेत्र में नाम रौशन करने हेतु अध्यापकों को ज्यादा लगन, मेहनत और दृढ़ता के साथ अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

इस मौके जिला शिक्षा अफसर सेकंडरी जसवंत सिंह की तरफ से सरकारी मिडल स्कूल दरशोपुर, सरकारी हाई स्कूल फतेहपुर, सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल नाजोचक्क, सरकारी मिडल स्कूल नाला और सरकारी सीनियर सेकंडरी स्कूल घरोटा स्कूलों में प्रेरनादायक विजट की गई और अध्यापकों को नेशनल अचीवमेंट सर्वे के लिए बढ़िया कारगुजारी दिखाने के लिए उत्साहित किया गया।

जिला शिक्षा अफसर एलिमेंट्री बलदेव राज की तरफ से सप्रस हरदोशरन, थड़ा उपरला, लंजेरा, बार सुडाल, गुड़नोई, माड़वां, सतरालवां, दकोहा बंगला, सारटी, दरबान, दुक्खनियाली, घार और फंगोते के दौरे दौरान अध्यापकों की तरफ से कोविड के समय दौरान निभाई गई भूमिका की भी शलाघा की गई। उन्होंने समूह आधिकारियों, स्कूल मुखियों और अध्यापकों की हौसला अफजाई करते उन को नेशनल अचीवमेंट सर्वे 2021 में जिला पठानकोट की बेहतरीन कारगुजारी दिखाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि विभाग की तरफ से सैमीनार लगा कर सैंटर स्कूल मुखियों, स्कूल मुखियों और अध्यापकों को विभाग की तरफ से भेजे एजंडे के द्वारा नेस की बारीकियों के बारे समझाया जा चुका है और अब इस जागरूकता को बच्चों के स्तर तक पहुंचाने की जरूरत है।

डिप्टी डीईओ सेकंडरी राजेश्वर सलारीया और डिप्टी डीईओ एलिमेंट्री रमेश लाल ठाकुर ने कहा कि सरकारी स्कूलों में अध्यापकों के सहयोग और अनथक उद्यम की बदौलत दाखिलें में वृद्धि हुई है। उन्होंने कहा कि जिला पठानकोट के मेहनती अध्यापकों की वजह से ही आज सरकारी स्कूलों को स्मार्ट बनाया जा रहा है। कोविड -19 की महामारी के भयानक समय दौरान भी अध्यापकों ने मिसाल पेश करते आनलाइन शिक्षा दे कर विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य के लिए शानदार कार्य किया है।

उन्होंने अध्यापकों को प्रेरित करते कहा कि इन दौरों का मकसद पंजाब द्वारा प्राप्त पहले स्थान को बरकरार रखने के लिए किये जाने वाले कामों की जानकारी और राष्ट्रीय प्राप्ति सर्वेक्षण -2021 संबंधी पूर्ण योजनाबंदी करना है। उन्होंने विश्वास प्रकटाया कि विभाग द्वारा चलाई भिन्न भिन्न मुहिमों में किए गए बेमिसाल कार्यों की तरह इस कार्य में भी समूह अधिकारी, स्कूल प्रमुख और अध्यापक अपना 100 प्रतिशत योगदान देंगे।

बीपीईओ कुलदीप सिंह, बीपीईओ राकेश ठाकुर, बीपीईओ रिशमां देवी, बीपीईओ पंकज अरोड़ा, बीपीईओ नरेश पनियाड़, शिक्षा सुधार टीम मैंबर कमल किशोर, रमेश कुमार, मुनीश कुमार, डीएसएम बलविन्दर सैनी, जिला कोआरडीनेटर पढ़ो पंजाब पढ़ाओ पंजाब वनीत महाजन, स्मार्ट स्कूल कोआरडीनेटर संजीव मनी, स्टेनो तरूण पठानिया, जिला कोआरडीनेटर मीडिया सेल बलकार अत्तरी की तरफ से भी अध्यापकों को नेशनल अचीवमेंट सर्वे में चोटी का स्थान प्राप्त करने के लिए पूरी मेहनत के साथ बताए नुक्तों पर काम करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *