भाजपा जिला प्रधान के घर को किसानों ने घेरा, किसानों की नारेबाजी के खिलाफ भाजपा नेताओं ने भी की नारेबाजी, माहौल हुआ गर्म

Breaking News ताज़ा पंजाब राजनीति होम

संदीप कुमार

गुरदासपुर । भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष नरेंद्र परमार शनिवार की शाम करीब चार बजे भाजपा के जिला प्रधान परमिंदर सिंह गिल के  आवास स्थान पर प्रेम कांफ्रेंस करने पहुंचे ही थे कि इतने में किसानों ने उनके घर को घेर लिया और भाजपा के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरु कर दी। इस दौरान उनकी बात सुनने के लिए जैसे ही जिला प्रधान घर से बाहर निकले तो किसानों और उनके बीच खींचातानी हो गई। एक तरफ से जहां किसान नारेबाजी कर रहे थे तो दूसरी ओर भाजपा नेताओ ने भी नारेबाजी करनी शुरु कर दी और फिर किसानों ने उनके घर के आगे ही धरना लगा दिया। करीब एक घंटे तक चले इस पूरे क्रम में नरेंद्र परमार के जाने के बाद मामला शांत हुआ।

गौरतलब है कि आज भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष नरेंद्र परमार भाजपा के जिला प्रधान परमिंदर सिंह गिल के आवास स्थान नगर सुधार ट्रस्ट में प्रेस कांफ्रेंस के लिए पहुंचे। इस बात की भनक जैसे ही किसान नेताओं को लगी तो वह सभी किसानों के साथ उनके आवास स्थान पर आ पहुंचे और उन्होंने परमिंदर गिल के आवास स्थान को घेर लिया। इस दौरान उन्होने भाजपा तथा मोदी के खिलाफ नारेबाजी करनी शुरु कर दी। घटना की सूचना मिलते ही डीएसपी सिटी सुखपाल सिंह पुलिस बल के साथ परमिंदर गिल के आवास स्थान पर पहुंचे।

किसानों की मांग थी कि अगर वह तीन काले कानूनों को किसानों के हित में बता रहे हैं तो वह उन्हें बाहर निकल कर इसके होने वाले लाभ के बारे में उन्हें भी बतायें। पुलिस ने इस संबंधी बात भाजपा नेताओं तक पहुंचाई और उनसे बात करने के लिए जिला प्रधान परमिंदर गिल घरसे बाहर किसानों तक पहुंचे। जहां पहुंचते ही किसानों ने नारेबाजी करनी ओर तेज कर दी और किसी से बात तक करना मुनासिब न समझा। आमने सामने हुए भाजपा जिला प्रधान और किसानों में तलखबाजी बढ़ गई और दोनों तरफ से किसानों और भाजपा नेताओं की ओर से नारेबाजी करनी शुरु कर दी। देखते ही देखते माहौल गर्म हो गया। जिससे रोकने के लिए पुलिस को हंस्तक्षेप करना पड़ा।

पुलिस ने भाजपा नेताओं को जैसे तैसे वहां से भाजपा नेता परमिंदर गिल के घर में ले गये और गेट बंद कर दिया और दूसरी ओर किसान भी उनके घर के आगे डट गये और कहने लगे कि जितनी देर तक भाजपा नेता नरेंद्र परमाल यहां से जाते नहीं उतनी देर तक वह धरना निरंतर जारी रखेंगे और नारेबाजी करते रहेंगे। पुलिस ने जैसे तैसे भाजपा नेताओं को समझाया और फिर एक घंटे तक चले इस घटनाक्रम के बाद नरेंद्र परमार जब अपनी गाड़ी में बैठ कर निकले तो मामला कुछ शांत हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *