आप के हुए सेवा सिंह सेखवां, मेरा शेष जीवन ‘आप’ और केजरीवाल को समर्पित : सेवा सिंह सेखवां

Breaking News गुरदासपुर ताज़ा पंजाब राजनीति राष्ट्रीय होम

रावी न्यूज नेटवर्क

गुरदासपुर। आम आदमी पार्टी (आप) को माझा सहित पूरे पंजाब में और मजबूत बनाते हुए पंजाब के पूर्व मंत्री सेवा सिंह सेखवां अपने परिवार और सहयोगियों के साथ आप में शामिल हो गए।

पार्टी संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और पंजाब प्रधान भगवंत मान सहित पार्टी की पूरी पंजाब इकाई ने औपचारिक रूप से सेवा सिंह सेखवां और उनके बेटे जगरूप सिंह सेखवां को पार्टी में शामिल किया और सेखवां परिवार और उनके सभी समर्थकों का स्वागत किया।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, पंजाब मामलों के प्रभारी जरनैल सिंह और सह प्रभारी राघव चड्ढा के साथ गुरुवार सुबह दिल्ली से अमृतसर हवाईअड्डे पर पहुंचे और वहां से पार्टी अध्यक्ष भगवंत मान समेत पंजाब के नेताओं के काफिले के साथ गुरदासपुर जिले के गांव सेखवां में सेवा सिंह सेखवां के घर पहुंचे। जहां उन्होंने जत्थेदार सेखवां का हाल जाना तथा सेखवां परिवार को पार्टी में शामिल किया।

इस मौके पर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सेवा सिंह सेखवां और उनके परिवार ने पंजाब के विकास में बहुत बड़ा योगदान दिया है। सेवा सिंह सेखवां हमारे बुजुर्ग हैं और हम उनका आशीर्वाद लेने आए हैं। हम चाहते हैं कि जत्थेदार सेखवां हमारा मार्गदर्शन करते रहें।


केजरीवाल ने आगे कहा कि वह राजनीति करने नहीं ,बल्कि इस मिशन या उद्देश्य के साथ आएं है कि अमीरों और गरीबों को अच्छा इलाज मिले, बच्चों को बेहतर शिक्षा,सस्ती बिजली और अन्य सुविधाएं मिले तथा भ्रष्टाचारी तथा माफिया राज से मुक्ति तथा सभी को न्याय मिले। उन्होंने कहा कि सेवा सिंह सेखवां के परिवार के आप में शामिल होने से उनके मिशन को बड़ी गति मिलेगी।

एक सवाल के जवाब में अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पंजाब देश का नंबर एक राज्य था। इसलिए हम पंजाब को फिर से शांति और भाईचारे का राज्य बनाएंगे। पंजाब सीमांत राज्य है और यहां विभाजनकारी बयान नहीं देना चाहिए क्योंकि कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक भारत एक है।

इस मौके पर आप सुप्रीमो केजरीवाल का स्वागत करते हुए जत्थेदार सेवा सिंह सेखवां ने कहा कि केजरीवाल कुशल व्यक्तित्व के इंसान है तथा मेरा हाल जानने के लिए उन्होंने लंबा सफर तय किया इसके लिए मैं उनका आभार व्यक्त करता हूं। मैं अपने जीवन का शेष हिस्सा आप और केजरीवाल को समर्पित करता हूं। मैं किसी भी रूप में आम आदमी पार्टी के लिए जो भी कर सकता हूं, करूंगा।
 
उन्होंने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल उनका हाल जानने आए हैं। जबकि उनका केजरीवाल पर कोई एहसान नहीं है। उन्होंने दुख व्यक्त करते हुए यह भी कहा कि मैंने अपना अधिकांश जीवन अकाली दल की सेवा में बिताया है, लेकिन मेरा कोई भी पुराना साथी आज तक मुझसे मिलने नहीं आया।


सेखवां गांव के दौरे के बाद वापस दिल्ली लौटते हुए अरविंद केजरीवाल ने अमृतसर के एक गेस्ट हाउस में पंजाब के नेताओं के साथ एक विशेष बैठक भी की। बैठक में पंजाब पार्टी के अध्यक्ष भगवंत मान, नेता प्रतिपक्ष हरपाल सिंह चीमा, पंजाब मामलों के प्रभारी जरनैल सिंह, सह प्रभारी राघव चड्ढा, कुंवर विजय प्रताप सिंह, विधायक कुलतार सिंह संधवां, सरबजीत कौर मानूके, प्रिंसिपल बुद्धराम, प्रो.बलजिंदर कौर, मीत हेयर, मनजीत सिंह बिलासपुर, जय सिंह रौढ़ी, कुलवंत सिंह पंडेारी, मास्टर बलदेव सिंह, अमरजीत सिंह संदोआ,प्रदेश जनरल सेक्रेटरी हरचंद सिंह बरसट तथा सेक्रेटरी गगनदीप सिंह चड्ढा सहित अन्य नेता मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *