आंगनबाड़ी वर्करों ने पंजाब सरकार की शव यात्रा निकाली

पंजाब

दीनानगर : मांगों को लागू नहीं किए जाने के रोष स्वरूप शुक्रवार को आंगनबाड़ी मुलाजिमों ने क्षेत्र के विभिन्न गांवों में पंजाब सरकार की शव यात्रा निकालकर मुख्यमंत्री एवं मंत्रियों का पुतला फूंक कर रोष प्रदर्शन किया। इस दौरान सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गई।

प्रदर्शन की अध्यक्षता प्रधान हरजीत कौर व महासचिव सुभाष रानी ने की। वित्त सचिव अमृतपाल कौर व ज्वाइंट सचिव गुरदीप कौर ने कहा कि उनका धरना 14 अप्रैल से दीनानगर की विभागीय कैबिनेट मंत्री अरुणा चौधरी की रिहायश के बाहर चल रहा है। आज पूरे दीनानगर शहर में मार्च करते हुए क्षेत्र के विभिन्न गांव मगराला, हवेली, कुल्लियां, कुंडे घेसल, झंडी चौंता से होते हुए वापस दीनानगर बस स्टैंड पर रोड जाम कर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिदर सिंह, शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिगला व सामाजिक सुरक्षा महिला एवं बाल विकास मंत्री अरुणा चौधरी का पुतला फूंक कर प्रदर्शन किया। इस दौरान सीटू पंजाब के प्रदेशाध्यक्ष माह सिंह ने कहा कि केंद्र से भी पहलकदमी कर पंजाब सरकार ने 2017 में प्री प्राइमरी कक्षाएं शुरू की हैं। इसे आइसीडीएस स्कीम को खात्मे की ओर धकेला जा रहा है। तीन से छह साल के बच्चों को फिर से आंगनबाड़ी की रौनक बनाने के लिए संघर्ष को तेज करते हुए दीनानगर में विभागीय मंत्री अरुणा चौधरी के घर समक्ष भी पक्का मोर्चा लगाया गया। उन्होंने मांग की कि 2018 को लागू केंद्र सरकार द्वारा बढ़ाए मानभत्ते में 40 फीसद कटौती को खत्म करते हुए आंगनबाड़ी वर्कर के 600 मिनी वर्कर, 500 हेल्पर के 300 रुपये तुरंत बकाए सहित लागू किए जाए। इस मौके पर उपाध्यक्ष अनूप कौर, कृष्णा कुमारी, वरिदर कौर, गुरविदर कौर, जसपाल कौर, विश्वा, कांता आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *